जौ- Climate, Importance, Yield, Insect

          जौ【BARLEY】
वानस्पतिक नाम- हार्डियम वल्गेयर
कुल- ग्रेमिनी या पोएसी
उत्पत्ति(Origin)- एबीसीनिया (इथोपिया)
2n –  14
IMPORTANCE-
जो का उपयोग माल्ट, शराब,बियर आदि  बनाने में किया जाता है।
Climate-
इसके लिए  शीतोष्ण,ठंडी और नम जलवायु उपयुक मानी जाती है जो कि  अच्छी बढवार लिए 12 से 15 डिग्री सेंटीग्रेड  तापमान उपयुक्त माना जाता है।
Soil-
इस की खेती की लिए बलुई दोमट व दोमट  भूमि उपयुक्त रहती है ।
Varieties-
RDB 1, RD 57, राजकिरण, बिलाड़ा, RD 2035 etc.
Seed Rate-
जौ की सामान्य बुआई के लिए 100kg/h बीज की मात्रा पर्याप्त मानी जाती है।
Manure & Fertilizer-
नाइट्रोजन= 40-60kg/h
फास्फोरस= 20-30kg/h
Insects-
जौ की फसल में प्रमुख रुप से लगने वाले कीट दीमक, चेपा या एफिड कीट है।
Disease-
1) covered Smut– यह कवक द्वारा फैलता है जो बाह्य बिजोड रोग है।
2)Loose Smut– यह रोग भी कवक द्वारा फैलता है जो अन्तः बिजोड रोग है।

Yield-
जौ की सामान्य उपज  30-40kg/h प्राप्त हो जाती है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please disable your adblocker or whitelist this site!