0

Biogas And Biogas Plants in Hindi

    Biogas And Biogas Plants


 Biogas【बायोगैस】 – बायोगैस को साधारण भाषा में गोबर गैस भी कहते हैं। बायोगैस में हर प्रकार के सड़े गले पदार्थ का उपयोग बायोगैस के रूप में उपयोग किया जाता है इसमें बायोमास उत्पादों या गोबर को सड़ाकर गैस के रूप में एकत्रित करके उपयोग किया जाता है। लगातार जनसंख्या बढ़ने से विद्युत और गैस आदि की मात्रा में भारी कमी देखने को मिल रही है और जनसंख्या के निरंतर बढ़ने से कचरे या अपशिष्ट की मात्रा में भी बढ़ोतरी हो रही है अतः इस समस्या के निपटान के लिए सबसे अच्छा सस्ता उपाय बायोगैस है जिसे आसानी से कचरे या अपशिष्ट का भी निपटान हो जाता है और इससे विद्युत और गैस  का भी उत्पादन किया जा सकता है और बचे पदार्थों का कम्पोस्ट के रुप में प्रयोग किया जा सकता है।

            बायोगैस के मुख्य तीन घटक होते हैं।
    मीथेन- 55-60%
   कार्बन डाइऑक्साइड – 35-45%
   हाइड्रोजन सल्फाइड- 5%

Materials Used For Biogas Generation
◆ मानव उत्सर्जित पदार्थ ( human waste)
◆ जलीय पौधों का वेस्ट (waste of Aquatic origin)
◆ एग्रीकल्चर वेस्ट (agriculture waste)
◆ औद्योगिक वेस्ट (Industrial waste)
◆ पशुओं के अपशिष्ट पदार्थ (animal waste)
Advantage of biogas【 बायोगैस के लाभ 】-
◆ गोबर के अलावा मानव मल से भी   ◆ बायोगैस को  प्राप्त किया जा सकता है।
◆ बायोगैस प्रदूषण मुक्त स्वच्छ ,रंग हीन, गंध हीन, गैस है।
◆ धुंआ नहीं निकलता है ।
◆ लागत कम होती  है ।
◆ लकडी की बचत होती है वृक्षों की कटाई घटने से उनके संरक्षण में सहायता मिलती है।
Use Of Biogas【 बायोगैस के उपयोग】-

◆ भोजन पकाने में इसका उपयोग किया जाता है ।
◆ विद्युत उत्पादन करने में भी इसका प्रयोग किया जाता है।
◆ खाद का उत्पादन भी आसानी से किया जा सकता है ।
◆ यांत्रिक ऊर्जा भी प्राप्त की जा सकती है।
◆ कंपोस्ट खाद भी उपलब्ध हो जाती है।
◆ प्रकाश व्यवस्था के रूप में भी इसका उपयोग किया है।
                      इस  प्रकार अधिक लाभ व व्यय को देखते हुये । हमें बायोगैस का उपयोग करना चाहिए।
                             

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *